CM’s Business Interest Relief Scheme Jammu & Kashmir

CM’s Business Interest Relief Scheme Jammu & Kashmir :- जम्मू और कश्मीर के वित्त मंत्रालय ने जम्मू और कश्मीर के उद्योगों और व्यवसायों के लिए मुख्यमंत्री की ब्याज राहत योजना शुरू की है। इसके बाद जम्मू और कश्मीर सरकार सभी भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा पुनर्गठित खातों के लिए लंबित कुल ब्याज भुगतान का एक तिहाई (1/3) प्रदान करेगा। यह योजना जनवरी -2018 से जनवरी 2020 तक आगामी 2 वर्षों के लिए शुरू की गई है। इस योजना “जे एंड के में कारोबार करना आसान” है। इस योजना के अंतर्गत उधारकर्ताओं को अपने मासिक किस्त और राज्य सरकार की दो-तिहाई (2/3) राशि का भुगतान करना होगा।

Jammu & Kashmir CM’s Business Interest Relief Yojana

शेष राशि का भुगतान करेगा राज्य सरकार वर्ष 2018-19 के लिए जम्मू और कश्मीर के वित्तीय बजट में इस योजना की घोषणा की जम्मू और कश्मीर सरकार यह भी सुनिश्चित करता है कि BAH लोगों को अपने ऋण का भुगतान करने को प्रेरित नहीं करेगा। जम्मू कश्मीर बजट 2018-19 की घोषणा करते हुए राज्य सरकार ने भी आश्वासित कैरियर प्रगति योजना (Assured Career Progression Scheme) की घोषणा की है। यह कैरियर प्रगति योजना (Career Progression Scheme) सभी इंजीनियरिंग विभागों के सभी राजपत्रित कैडर को लाभ प्रदान करेगी।

Details of CM’s Business Interest Relief Scheme

* इस योजना के तहत राज्य सरकार एक तिहाई का भुगतान करेगा जबकि उधारकर्ताओं को मासिक किस्त के दो-तिहाई भुगतान करना होगा।

* जम्मू और कश्मीर सरकार यह राशि मुख्यमंत्री के राहत निधि और प्रधानमंत्री ब्याज सहायता योजना से प्रदान करेगी।

* यह योजना 2 जनवरी 2010 से जनवरी 2020 तक 2 कैलेंडर वर्षों के लिए लागू है।

* यह योजना कई उद्योगों, व्यापार निकायों और व्यापारिक बिरादरी को लाभ पहुंचाएगी और उन्हें वित्तीय स्थान भी देगा।

* इसके अलावा विभिन्न बैंकों को भी इस योजना से लाभ मिलेगा क्योंकि यह योजना बैंकों को उनके गैर परफॉर्मिंग एसेट्स (एनपीए) के निर्माण में मदद करेगी।

* पुनर्गठन फ़ोल्डर पर औसत ब्याज दर में प्रतिशत अंक में कमी के बाद ही बैंक इन लाभों का लाभ उठा सकते हैं।

How To Apply|Apply Online|Online Registration|Online Form|Details|Benefit| Eligibility Criteria|Objective|Online Application form|J&K Budget 2018-19

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *