Flow Irrigation Scheme / Solar Irrigation Yojana Himachal Pradesh

agricultural schemes in hp, government schemes in himachal pradesh, irrigation scheme in himachal pradesh, himachal pradesh agriculture department, subsidy loan in himachal pradesh, polyhouse subsidy in himachal 2019, self employment schemes in himachal pradesh, irdp scheme in himachal, in hindi, How To Apply, Apply Online,Online Registration,Online Form,Details,Benefit, Eligibility Criteria,Objective, Online Application form, Notification

Flow Irrigation Scheme / Solar Irrigation Yojana Himachal Pradesh

Flow Irrigation Scheme Himachal Pradesh फ्लो सिंचाई योजना हिमाचल प्रदेश :- मुख्यमंत्री ने कहा कि सिंचाई कृषि से आय बढ़ाने का प्रमुख साधन है। सिंचाई से आय बढ़ाने के लिए फ़ील्ड चैनल्स के माध्यम से खेत में पानी पहुंचाया जाएगा। इसके लिए 130 करोड़ का बजट प्रस्तावित किया गया है।

इसके अलावा ‘जल से कृषि को बल’ योजना के तहत प्रदेश में चेक डैम और तालाबों का निर्माण किया जाएगा। इसके अलावा 150 करोड़ की लागत से ‘फ्लो इरीगेशन स्कीम’ के तहत कूहलों के स्रोत का नवीनीकरण किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत सिंचाई के प्रयोजन के लिए किसानों को बिजली प्रति यूनिट 75 पैसे पर उपलब्ध कराई जाएगी।

Solar Irrigation Scheme Himachal Pradesh (सौर सिंचाई योजना हिमाचल प्रदेश) :- अगले पांच वर्षों में 200 करोड़ रुपये के बजट परिव्यय के साथ नई योजना “सौर सिंचाई योजना” शुरू की गई।मुख्यमंत्री द्वारा घोषित ‘जल से कृषि को बल’ बहाव सिंचाई तथा सौर सिंचाई योजनाओं से प्रदेश के किसानों तथा बागवानों की सिंचाई जरूरतों को पूरा करने में सहायता मिलेगी।

Flow Irrigation Scheme / Solar Irrigation Yojana Himachal Pradesh

उन्होंने पावर बीडर्स तथा पावर टिल्लर्ज इत्यादि पर किसानों तथा बागवानों को उपदान देने के लिए 32 करोड़ रुपये का प्रावधान बनाने, एंटी हेलनेट के लिए बजट प्रावधान को 2.27 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 10 करोड़ रुपये करने और नई ‘बागवानी सुरक्षा योजना’ के अन्तर्गत एंटी हेलनेट के लिए 60 प्रतिशत के उपदान के निर्णय का भी स्वागत किया। मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना में तीन साल के लिए 17881 हेक्टेयर क्षेत्र में 338 करोड़ की लागत से 111 लघु सिंचाई योजनाओं के लिए एक नई इकाई केंद्र सरकार ने मंजूर की है।

इसकी पहली किश्त के रूप में 49 करोड़ रुपए भी मिले हैं। इस योजना के लिए राज्य सरकार ने 277 करोड़ रुपए का बजट प्रावधान किया है। 200 करोड़ रूपए की लागत से सौर सिंचाई योजना शुरू करने का भी ऐलान किया गया है। सरकार ने किसानों को सिंचाई के लिए बिजली की वर्तमान दर एक रुपए प्रति यूनिट से घटाकर 75 पैसे प्रति यूनिट करने का ऐलान किया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.