Gobar Dhan Yojana for Farmers। गोबर धन योजना Central Govt.

अरुण जेटली, लोकसभा, आम बजट, सरकार, ग्रामीण, योजना, गोबर-धन, मंत्री, 2019, Budget 2019 , Union Budget 2019 , Arun Jaitley , Gobar Dhan Scheme, Yojana , announces , Hindi , English,गोबर धन योजना की शुरुआत, गोबर धन योजना wikipedia, gobardhan yojna, गोबर धन योजना पिब, गोबर धन स्कीम, राष्ट्रीय गोबर धन योजना, gobardhan yojana, in hindi, How To Apply,Apply Online,Online Registration,Online Form,Details,Benefit, Eligibility Criteria,Objective, Online Application form, Notification

Gobar Dhan Yojana for Farmers। गोबर धन योजना Central Govt.

Gobar Dhan Yojana for Farmers। गोबर धन योजना Central Govt. :- केंद्र सरकार ने किसानों के लिए गोबर धन योजना की (Gobar Dhan Scheme 2019 ) शुरुआत की है।इस योजना के अंतर्गत मवेशियों के गोबर को बायो-गैस और बायो-सीएनजी में बदल दिया जाएगा। तथा किसान इस कचरे को कृषि में खाद और उर्वरक के रूप में पुनः उपयोग कर सकते हैं। इस प्रकार इस कृषि केंद्रित योजना में ग्रामीणों के जीवन में सुधार होगा। यह योजना मवेशियों के गोबर के प्रबंधन पर ध्यान केंद्रित करेगी और इसे जैव ईंधन / बायो-सीएनजी के रूप में इस्तेमाल करेगी।

यह योजना से केंद्रीय सरकार 2022 तक किसानों की आय दोगुना करेगी। केंद्रीय बजट 2018-19 में, केंद्रीय सरकार ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य संरक्षण योजना भी शुरू की है। इसके अलावा केंद्रीय सरकार इस साल केंद्रीय बजट में न्यूनतम समर्थन मूल्य में 1.5 गुना उत्पादन लागत बढ़ाने की घोषणा भी की है।

Objective of Gobar Dhan Scheme Budget 2019

* केन्द्रीय सरकार ने पशुधन के प्रबंधन को बढ़ावा देने और इसे पुन: उपयोग करने के लिए गैल्वेवनिंग ऑर्गेनिक बायो-एग्रो रिसोर्सेज धन (गोबर धन) योजना शुरू की है।

* इसके बाद यह योजना “स्वच्छ भारत मिशन” की ओर योगदान करेगी और भारत ओडीएफ मुक्त बनाने में मदद करेगी।

* इसके अतिरिक्त गोबर धन योजना ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के जीवन में सुधार करेगी।

* इसके अलावा किसान अपने खेतों में इस ठोस अपशिष्ट और गाय के गोबर का उपयोग कर सकते हैं और इसे खाद, उर्वरक, जैव-गैस और जैव ईंधन के रूप में पुनः उपयोग कर सकते हैं।

* इसके अलावा, केंद्रीय सरकार गांवों में विभिन्न स्वास्थ्य और कल्याण केन्द्रों को खोलने, ग्रामीण व्यापार केंद्रों के लिए बुनियादी ढांचे में सुधार, गांवों और शहरों के बीच बेहतर संपर्क और उच्च शिक्षा के लिए केंद्र भी खोलने के अन्य फैसले भी उठाए गए हैं।

इस योजना की घोषणा केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने लोकसभा में आम बजट पेश करते हुए गोबर-धन (गैलवनाइजिंग ऑर्गेनिक बायो-एग्रो रिसोर्स धन) की। उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत गोबर और खेतों के ठोस अपशिष्ट पदार्थों को कम्पोस्ट, बायो-गैस और बायो-सीएनजी में बदला किया जाएगा।

अरुण जेटली, लोकसभा, आम बजट, सरकार, ग्रामीण, योजना, गोबर-धन, मंत्री, 2019
Budget 2019 , Union Budget 2019 , Arun Jaitley , Gobar Dhan Scheme, Yojana , announces , Hindi , English

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.