Himachal Pradesh BJP Manifesto 2019

Himachal Pradesh BJP Manifesto 2019

भारतीय जनता पार्टी ने घोषणा पत्र के बजाय पहली बार स्वर्णिम हिमाचल दृष्टि पत्र जारी कर दिया। केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भाजपा के इस पत्र को जारी किया। भाजपा ने अपने विजन डॉक्यूमेंट में समाज के तकरीबन सभी वर्गों का ख्याल रखा है। डॉक्यूमेंट में भाजपा का फोकस प्रदेश में बढ़ती बेरोजगारी के बजाय प्रदेश में बढ़ते माफियाराज और महिला अपराध पर है। मंडी के होशियार सिंह की मौत से लेकर कोटखाई की गुड़िया हत्याकांड को जगह मिली है। होशियार और गुड़िया के नाम पर हेल्पलाइन शुरू करने का वायदा कर चुनाव भर भाजपा दोनों मुद्दों को भुनाने का प्रयास करेगी।

स्वास्थ्य सेवा

* हर घर – हर नल स्वच्छ पेयजल पहुंचेगा।
* सड़को से जुड़ेंगे हर गांव।
* दुर्गम क्षेत्रो में आपातकालीन स्वास्थ्य सेवा के लिए पहुंचेगी हेलि – एबुलेंस

शिक्षा में गुणवत्ता

* ग्रेड 3 और 4 की नौकरियों के लिए इंटरव्यू नहीं होगा। योग्यता ‌के आधार पर चयन किया जाएगा।
* कालेज छात्रों को मिलेंगे लेपटॉप/टेबलेट और मासिक 1GB डाटा और सरकारी संस्थानों में वी फि फ्री जॉन
* सभी जिलों में हर साल `वार्षिक रोजगार मेले` का आयोजन।

किसानो और बागबानों की उन्नति

* हिमाचल के किसानो और बागबानों की 2022 तक आय दुगनी होगी।
* सब्सिडी बढ़ाकर सभी किसानो और बागवानों को `प्रधानमंत्री फसल बिमा योजना` के अंतर्गत लाएंगे।
* सरकार द्वारा अधिकृत भूमि को मुआवजे का भुगतान 2 गुना से बढ़ाकर 4 गुना किया जाएगा।
* प्रदेश में होगा बागबानी विश्व विद्यालय।

नारी सुरक्षा और वरिष्ठ नागरिको का सत्कार

* महिला सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए `गुड़िया योजना` के अंतर्गत महिला पुलिस थाने व् हेल्पलाइन होंगे स्थापित।
* महिलाओ को आतम निर्भर बनाने के लिए पंचायत में बनेगे सशत्र स्त्री केंद्र।
* 60 वर्ष की आयु बाले नागरिको को मिलेगी समाजिक सुरक्षा पेंशन

हर वर्ग को मिलेगा अपना अधिकार

* अपना घर योजना के अंतर्गत 2022 तक हर ग्रीव के पास अपना घर होगा।
* बी. पी. एल. परिवारों की छात्र छात्राओं को स्नात्र स्तर तक निशुल्क शिक्षा।
* मजदूरों और दिहाड़ी बाले श्रमिकों को `अटल पेंशन योजना` के अंतर्गत मिलेगी पेंशन।

कर्मचारी

* सरकारी विभागों में कर्मचारियों की पेंशन हेतु केंद्र सरकार से परामर्श के लिए सीएम की अगुवाई में पेंशन योजना समिति का गठन किया जाएगा।
* वेतनमान के लिए 4-9-14 के स्केल का अनुपालन किया जाएगा।
* कर्मचारियों के भुगतान से संबंधित समस्याओं के लिए वेतन विवाद निवारण समिति का गठन किया जाएगा।
* कर्मचारी कल्याण बोर्ड का पुर्नगठन कर उसकी सिफारिशों पर विचार विमर्श किया जाएगा।
* 1992 में नियुक्‍त स्वयंसेवी प्राध्यापकों को सेवा लाभ देने हेतु नीति बनाई जाएगी।
* सरकारी कर्मचारियों को स्वास्‍थ्य कल्याण कार्ड दिया जाएगा।
* सरकारी कर्मचारियों को अच्छा प्रदर्शन के लिए प्रेरित करने को कर्मयोगी योजना शुरू की जाएगी।
* ठोस भर्ती एवं स्‍थानातंरण नीति बनाई जाएगी।

युवा एवं रोजगार

* उद्योग में 70 फीसदी की जगह 80 फीसदी नौकरियां हिमाचलियों को मिलेंगी।
* ग्रामीण बीपीओ स्थापित कर आर्थिक सहायता दी जाएगी।
* रोजगार केंद्रों को कौशल पहचान केंद्र के रूप में तब्दील किया जाएगा।
* कैरियर परामर्श और मार्ग दर्शन सेवाएं उपलब्ध कराई जाएंगी।
* ब्लाक स्तर पर कौशल विकास केंद्रों को स्थापित किया जाएगा।
* 50 हजार युवाओं को अंग्रेजी बोलने के लिए उन्नत शिक्षकों को ट्रेनिंग देंगे।
* शिमला, धर्मशाला, हमीरपुर, बीबीएन, चंडीगढ़ में युवाओं के लिए हॉस्टल खोलेंगे।
* प्रतिस्पर्धात्मक परीक्षाओं के लिए यात्रा करने वाले छात्रों को निशुल्क यात्रा की सुविधा देंगे।

पूर्व सैनिक

* रक्षा मंत्रालय के सहयोग से प्रदेश में सीएसडी डिपो खोला जाएगा।
* शहीदों के सम्‍मान में उनके गांव में स्मारक और शहीदी पार्क बनाए जाएंगे।
* सैन्य सेवा के प्रशिक्षण हेतु 200 बच्चों की क्षमता वाले मेजर सोमनाथ शर्मा स्कूल खोले जाएंगे।
* अर्धसैनिक बलों से सेवानिवृत्त जवानों को सशस्‍त्र बलों के पूर्व सैनिकों के बराबर का हक दिलाने का पूरा प्रयास किया जाएगा।

खेल

* प्रदेश के हर जिले में मिनी स्टेडियम और खेल अकादमी स्थापित की जाएंगी।
* हर पंचायत में जिम और खेल के मैदान बनाकर खेलकूद गतिविधियों को बढ़ाया जाएगा।
* विवेकानंद युवा केंद्र खोलकर युवाओं की सामाजिक, रचनात्मक, सांस्कृतिक कार्यक्रम में भूमिका सुनिश्चित करेंगे।
* एनसीसी में सी प्रमाणपत्र प्राप्त करने पर छात्रवृत्ति के रूप में हर महीने सरकार एक हजार रुपये की राशि देगी।
* उभरते हुए खिलाडिय़ों के लिए प्रति वर्ष अलग से उचित बजट का प्रावधान किया जाएगा।
* आईजीएमसी के मनोचिकित्सक विभाग को नशा मुक्ति समाधानों और उपचारों के विकास के केंद्र में रूप में विकसित करेंगे।
* जिला स्तरीय सरकारी अस्पतालों में मनोचिकित्सा विभाग के तहत नशा मुक्ति केंद्र खोले जाएंगे।

भ्र्ष्टाचार ख़तम करना

* मुख्यमंत्री कार्यालय में होगी स्थापित 24×4 होशियार हेल्पलाइन।
* पूर्व सेनिको से गठित `मेजर सोमनाथ वाहिनी` जो लाएगी चोरी, डकैती एवं नशीले पदार्थो पर रोक।
* खनन, वन एवं पुलिस विभागों से होगी गठित उच्च स्तरीय जॉइंट टास्क फ़ोर्स जो अवैध खनन का अंत करेगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.