Megha Protsahan Yojana himachal pradesh

Megha Protsahan Yojana himachal pradesh ( मेघा प्रोत्साहन योजना हिमाचल प्रदेश ):- हिमाचल प्रदेश सरकार ने प्रदेश के विकास के लिए कई योजनाओ की घोषणा की है। उन योजनाओ में एक योजना (मेघा प्रोत्साहन योजना) Megha Protsahan Yojana भी है। इस योजना के अंतर्गत प्रदेश सरकार ने 5 करोड़ रूपये के बजट का प्रावधान किया है। प्रदेश सरकार मेधावी छात्रों को मेघा प्रोत्साहन योजना के अंर्तगत छात्रों को लैपटाॅप वितरण करेगी। इस योजना के अंतर्गत जिला के कुल 849 मेधावी विद्यार्थियों का चयन लैपटॉप के लिए किया है।

जिनमें 311 विद्यार्थियों को सितम्बर, 2017 तक लैपटॉप वितरित किए गए और शेष 538 मेधावी विद्यार्थियों को लैपटॉप वितरित करने की प्रक्रिया आरम्भ हो चुकी है।मेघा प्रोत्साहन योजना को आगे बढ़ाते हुए मेधावी विद्यार्थियों को सरकार की ओर से लैपटाॅप वितरित किया। सयुंक्त निदेशक हिप्र शिक्षा विभाग सुशील पुंडीर, उप-निदेशक उच्च शिक्षा अमर सिंह, प्राचार्य अमर नाथ ने मुख्यातिथि सुभाष ठाकुर को शाॅल, टोपी व समृति चिन्ह भेंट करके सम्मानित किया|

Megha Protsahan Scheme

Megha Protsahan Scheme Himachal Pradesh

हिमाचल प्रदेश मेघा प्रोत्साहन योजना का मुख़्य उद्देश्य हिमाचल प्रदेश के मेघावी छात्रों को प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी करवाना है। इस योजना के अंतर्गत युवाओं को राज्य व राज्य के बाहर कोचिंग के लिए सहायता उपलब्ध करवाई जाएगी। इसके लिए प्रदेश सरकार ने 5 करोड़ रूपये के बजट का प्रावधान किया है।छात्रों को रोजगार के लिए सिविल सेवा की परीक्षा की तयारी करवाना है। और साथ ही उच्च स्तरीय शैक्षिक संस्थानों में प्रदेश और प्रदेश के बाहर कोचिंग की सहायता उपलब्ध करवाना।

Megha Protsahan Scheme

सरकार गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने के लिए कृत संकल्प है। गुणात्मक शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए इस वित्तिय वर्ष के बजट में 7,044 करोड़ रूपये का प्रावधान किया गया है। यह जानकारी स्थानीय विधायक सुभाष ठाकुर ने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला कन्दरौर में मेधावी छात्र लैपटॉप वितरण समारोह, विश्व स्वास्थ्य दिवस और भारत स्काउट एण्ड गाईड एसोसिएशन के दो दिवसीय शिविर के समापन समारोह में अपने सम्बोधन में बतौर मुख्यातिथि शिरकत करते हुए दी।

उन्होनें कहा कि गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए पाठशालाओं में सभी बुनियादी सुविधाएं होना आवश्यक है। प्रदेश सरकार इसके लिए मुख्यमंत्री आदर्श विद्या केन्द्र नई योजना आरम्भ कर रही है। इस योजना के अंर्तगत चरणबद्ध तरीके से सभी विधानसभा क्षेत्रों में जहां नवोदय विद्यालय या एकलव्य विद्यालय नहीं है। वहां पर एक आदर्श आवासीय विद्यालय स्थापित करेगी। जिसमें सभी सुविधाओं के साथ छात्रावास और निशुल्क शिक्षा प्रदान की जाएगी। प्रथम चरण में 10 आदर्श विद्यालयों पर 25 करोड़ रूपये व्यय किए जाएंगे।

How To Apply|Apply Online|Online Registration|Online Form|Details|Benefit|Eligibility Criteria|Objective|Online Application form

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *