Saubhagya Yojana

Saubhagya Yojana

Saubhagya Yojana

Saubhagya Yojana (PMSY) :- दोस्तों जैसा की आप को पता होगा की पीएम मोदी ने ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों के सभी घरों तक बिजली पहुंचाने के लिए ‘सौभाग्य’ योजना की शुरुआत की है। इस योजना के अंतर्गत सरकार हर घर में बिजली पहुचायेगी। इस योजना के लिए केंद्र सरकार 16000 हजार करोड़ खर्च करेगा।

यह योजना पीएम ने जनसंघ विचारक दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर देश को इस महत्वपूर्ण योजना की सौगात दी है। सौभाग्य योजना का मतलब ‘प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना’ है। इसके तहत हर गांव, हर शहर के हर घर तक बिजली पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। इस योजना को 31 मार्च 2019 तक पूरा किया जाएगा।

Name of the yojana — Saubhagya
Aim of this project — 24 hrs Electricity to each and every home in villages.
Yojana Inaguration date — 25/09/2017

Benefit of Saubhagya Yojana

* इस योजना के तहत 2011 के सामाजिक आर्थिक और जाति जनगणना में दर्ज गरीबों को बिजली का कनेक्शन फ्री दिया जाएगा।
* जिन लोगों का नाम इस जनगणना में नहीं है वह भी 500 रुपये का भुगतान कर बिजली का कनेक्शन हासिल कर सकेंगे।
* इस राशि को 10 किस्तों में बिजली के बिलों के रूप में लिया जाएगा।

* सौभाग्य योजना के तहत सुदूर व दुर्गम क्षेत्रों में बिजली से वंचित आवासों को मोदी सरकार बैट्री बैंक उपलब्ध कराएगी।
* इसमें 200 से 300 डब्ल्यूपी का सोलर पावर पैक है जिसमें पांच एलईडी लाइटें एक डीसी पंखा, एक डीसी पावर प्लग और 5 साल के लिए मरम्मत शामिल है।
* इस योजना के तहत बिजली कनेक्शन के साथ हर घर को पांच एलईडी लाइट, एक पंखा और एक बैटरी दी जाएगी।

सौभाग्य योजना में घर घर पहुंचेगी बिजली

* ‘सौभाग्य योजना के तहत’ तहत ट्रांसफॉर्मर्स, मीटर्स और तारों के लिए भी सब्सिडी मिलेगी।
* केंद्र ने राज्य सरकारों से बिजलीकरण के प्रॉजेक्ट्स तैयार करने को कहा है जिनके लिए केंद्र सहमति देने के बाद फंड जारी कर देगी।
* अधिकतर उपभोक्ता प्रीपेड बिजली कनेक्शन पर शिफ्ट होंगे जिससे बिजली कंपनियों को हुए घाटे की भरपाई हो जाएगी।

* इसके अलावा बिजली की मांग को पूरा करने के लिए सरकार एनटीपीसी की क्षमता को बढ़ाने पर जोर दे रही है।
* राज्य सरकारों की बिजली मांग को पूरा करने के लिए सरकार पावर पर्चेज अग्रीमेंट्स को बढ़ावा देने पर विचार कर रही है।

Benefit Holder State Under Saubhagya Yojana

* सौभाग्य योजना के तहत बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, ओडिशा, झारखंड, जम्मू-कश्मीर, राजस्थान व पूर्वोत्तर राज्य शामिल हैं।
* सौभाग्य योजना के कुल बजट 16,320 करोड़ रुपये रखा गया है।

* इसमें सरकारी सहायता के तौर पर 12,320 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है।
* ग्रामीण आवासों में बिजली पहुंचाने पर 14,025 करोड़ और शहरी आवासों पर 1732.50 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।

सौभाग्य योजना

सौभाग्य योजना प्रधान मंत्री का ड्रीम प्रोजेक्ट है। इस प्रोजेक्ट को 1000 दिनों में ख़तम करना है। पीएम मोदी ने कहा ”अभी तक किसी ने सोचा नहीं था कि एक सरकार ऐसी भी आएगी जो लोगों के घर घर जा कर बिजली कनेक्शन देगी।” दरअसल, इस योजना के तहत बिजली वितरण कंपनियों के अधिकारी स्वयं सरकारी डाटा के हिसाब से उन घरों में जाएंगे जहां बिजली कनेक्शन नहीं है और घर के मुखिया के आधार कार्ड को देख कर बिजली कनेक्शन हाथों हाथ देंगे। एक वर्ष बाद यानी दिसंबर, 2018 तक हर घर को बिजली देने का लक्ष्य हासिल पूरा कर लिया जाएगा। इसके बाद हर घर को चौबीसों घंटे, स्थाई बिजली देने का काम बचेगा जिसे पूरा किया जाएगा।

 

 Pradhan Mantri Saubhagya Yojana

 

How To Apply|Apply Online|Online Registration|Online Form|Details|Benefit| Eligibility Criteria|Objective|Online Application form

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*