Urea Subsidy Scheme/Yojana

      No Comments on Urea Subsidy Scheme/Yojana

urea subsidy per bag, urea subsidy 2019, urea subsidy scheme in hindi, urea subsidy scheme upsc, urea subsidy 2019, urea subsidy meaning, fertilizer subsidy calculation, urea subsidy to continue till 2020, in hindi, How To Apply,Apply Online,Online Registration,Online Form,Details,Benefit, Eligibility Criteria,Objective, Online Application form, Notification

Urea Subsidy Scheme/Yojana

Urea Subsidy Scheme/Yojana :- केंद्र सरकार ने वित्त वर्ष 2020 तक यूरिया सब्सिडी योजना Urea Subsidy Scheme / Yojana का विस्तार करने का निर्णय लिया है। इसके बाद, यह उर्वरक डीबीटी योजना किसानों को उर्वरक सब्सिडी Fertilizer Subsidy Scheme का प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण प्रदान करेगी। तदनुसार उर्वरकों में यह डीबीटी सीधे किसानों को सीधे यूरिया सब्सिडी हस्तांतरण और उर्वरक सब्सिडी सुनिश्चित करेगा।

इसके अलावा सरकार उर्वरकों के लिए डीबीटी प्रदान करेगा ताकि उर्वरक डीबीटी रोलआउट के तहत सब्सिडी वाले यूरिया की आपूर्ति सुनिश्चित हो सके। सरकार 5,360 रुपये प्रति टन की नियंत्रित कीमत पर यूरिया प्रदान करेगा। इस के अनुसार 2018-19 में 45,000 करोड़ रुपये यूरिया सब्सिडी योजना की लागत थी। केंद्रीय सरकार इस परियोजना के लिए1,64,000 करोड़ रुपये खर्च करेगी।

Urea Subsidy Scheme

Urea Subsidy Scheme / Yojana 2018-19

आर्थिक मामलों की कैबिनेट कमेटी (सीसीईए) ने उर्वरक सब्सिडी सुधारों के लिए इस प्रस्ताव को मंजूरी दी है। सरकार का प्राथमिक ध्यान उर्वरकों के कार्य में डीबीटी बनाने और कम कीमतों पर किसानों को पर्याप्त मात्रा में यूरिया प्रदान करने पर है।

Pradhan Mantri Urea Subsidy Scheme / DBT in Fertilizer Subsidy to Farmers

* Direct Urea Subsidy Transfer Scheme / Yojana डायरेक्ट यूरिया सब्सिडी ट्रांसफर स्कीम किसानों को 5,360 / रुपए प्रति टन दी जाएगी।
* इसके बाद सरकार खेतों के गेट पर उर्वरकों की डिलीवर की लागत और निर्माताओं के लिए सब्सिडी के रूप में अधिकतम खुदरा मूल्य (एमआरपी) में अंतर प्रदान करेगा।

* तदनुसार केंद्रीय सरकार अगले 3 वर्षों में 1.64 लाख करोड़ खर्च करेगा इससे पहले, रसायन और उर्वरकों के मंत्रालय को हर साल मंजूरी लेने की जरूरत है|

* इस योजना के लिए सरकार को 3 साल के लिए मंजूरी मिली सीसीईए सीधे किसानों को सीधे उर्वरक सब्सिडी का भुगतान करने के लिए उर्वरक सब्सिडी में प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण – डीबीटी के कार्यान्वयन को स्वीकृति प्रदान करता है।

* उर्वरक सब्सिडी का यह प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण मोड़ को कम करेगा और रिसावों को भी प्लग करेगा।
* इसके अलावा सरकार उर्वरकों के लिए डीबीटी प्रदान करने के लिए देश भर में उर्वरक डीबीटी रोलआउट की योजना बना रही है।

* इसके अलावा उर्वरकों में डीबीटी उर्वरक कंपनियों को उर्वरकों में डीबीटी बनाने के लिए Apply Online,Online Registration,Online Form, Online Application form के अंतर्गत 100% भुगतान सुनिश्चित करेगा।
* किसानों के लिए उर्वरक सब्सिडी की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए यूरिया सब्सिडी योजना की निरंतरता उर्वरक सब्सिडी सुधार लाएगी।

How To Apply|Apply Online|Online Registration|Online Form|Details|Benefit|Eligibility Criteria|Objective|Online Application form

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.