Uttar Pradesh KG to PG Scheme

      No Comments on Uttar Pradesh KG to PG Scheme

Uttar Pradesh KG to PG Scheme / Uttar Pradesh Compulsory Education Scheme– उत्तर प्रदेश सरकार राज्य में “उत्तर प्रदेश KG to PG योजना” शुरू करने जा रही है। इस योजना के अंतर्गत प्रदेश में सभी छात्रों और छात्राओं को मुफ्त और अनिवार्य दी जाएगी। राज्य सरकार अगले शैक्षणिक सत्र 2019-20 में कुछ शहरों में इस योजना को लागू करेगी। इस योजना के तहत राज्य सरकार सभी सरकारी संस्थानों में किंडरगार्टन (KG) से पोस्ट ग्रेजुएट (PG) स्तर के बीच सभी छात्रों को मुफ्त शिक्षा प्रदान करेगी। शिक्षा शिक्षक और छात्रों को जोड़ने वाली सबसे मुख्य कड़ी होती है। जीवन का सही अर्थ समझाने के लिए होती है शिक्षा। महात्मा ज्योतिबा फुले रोहिलखंड विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में अतिथि के रूप में संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, “हम अगले शैक्षणिक सत्र में कुछ शहरों में पीजी योजना को छात्रों के सामने लेकर आएंगे। योगी आदित्यनाथ जल्द ही इस संबंध में घोषणा करने जा रहे हैं।

UP KG to PG Scheme 2018 – 19

यूपी फ्री एजुकेशन स्कीम गरीब लोगों को काफी हद तक लाभान्वित करने जा रही है। अब सभी छात्र जो कम परिवार की आय के कारण बाहर निकलते हैं, वे अपनी पढ़ाई पूरी कर सकते हैं और अपना करियर बना सकते हैं। आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के लोग यूपी में नि: शुल्क शिक्षा योजना के अधिकांश लाभ प्राप्त करेंगे। वे अपनी आजीविका कमाने और समाज के विकास की दिशा में योगदान करने में सक्षम होंगे।

Uttar Pradesh KG to PG Scheme

 

Uttar Pradesh KG to PG Scheme – Free Education in UP

* उत्तर प्रदेश के सभी छात्रों को केजी से स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम को पूरा करने तक अपने गुणवत्ता शिक्षा तक पहुंच दी जाएगी।

* राज्य सरकार लोगों को अपने बच्चों को स्कूलों में भेजने की आवश्यकता को समझने पर केंद्रित है।

* शिक्षा किसी के जीवन का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है जिसके बिना कोई भी एक अच्छा इंसान बन सकता है।

* राज्य सरकार ने यह सुनिश्चित करने के लिए अकादमिक कैलेंडर बनाने का निर्णय लिया है कि कम से कम कुछ दिनों के लिए संस्थानों में अध्ययन आयोजित किया जाए।

* इसके अलावा सरकार यूपी बोर्ड और डिग्री कॉलेजों दोनों के लिए परीक्षा कार्यक्रम को कम करने का भी फैसला किया है।

* जो लोग अच्छी शिक्षा से वंचित हैं उन्हें हमेशा पिछड़ेपन में रहने के लिए मजबूर किया जाता है और उन्हें अपनी प्रतिभा के अनुसार नौकरियां नहीं मिलती हैं।

* पिछड़ा वर्ग छात्र लाभान्वित होंगे और शिक्षा के उनके रास्ते में कोई बाधा समाप्त हो जाएगी।
* राज्य सरकार शिक्षा के महत्व के बारे में जागरूक करने के लिए माता-पिता को परामर्श देने या सलाह देने की भी योजना बना रही है।

* सरकार निश्चित दिनों में पाठ्यक्रम पूर्ण होने के लिए एक लक्ष्य निर्धारित करने की भी योजना बना रहा है।
* आर्थिक रूप से पिछड़े वर्गों के सभी बच्चे पूरी तरह से नि: शुल्क शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं और खुद के लिए भविष्य बना सकते हैं।

* पहले फरवरी के महीने में, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इंटरमीडिएट स्तर (कक्षा 12 वीं) तक शिक्षा मुक्त करने की घोषणा की है।

* राज्य सरकार निजी स्कूलों द्वारा फीस में मनमाने ढंग से वृद्धि की जांच के लिए यूपी असेंबली में भी एक बिल पारित किया है।

 

How To Apply|Apply Online|Online Registration|Online Form|Details|Benefit|Eligibility Criteria|Objective|Download Online Application form|PDF Form     

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *