Madhyamik Shiksha Mandal (MSM) CBSC Pareeksha Yojana

chhattisgarh madhyamik shiksha mandal,cgbse.nic.in 2019-20,www.cgbse.net 2019
,online application form,aavedan apply online,online registration,online form,download pdf form,notification, website,helpline number,List,Suchi,benefit,eligibility criteria, status, objective ,last date,gbse.nic.in 2019-20, www.cgbse.nic.in hindi,cgbse result 2019,cgbse.nic.in 10th result 2019-20

Madhyamik Shiksha Mandal (MSM) CBSC Pareeksha Yojana

माध्यमिक शिक्षा मंडल माशिमं सीबीएसई परीक्षा योजना
माध्यमिक शिक्षा मंडल शिक्षा विभाग ने 11वीं के विद्यार्थियों के लिए नई सीबीएसई परीक्षा योजना 2017 का शुभारम्भ किया है। इस योजना के अंतर्गत शिक्षा विभाग ने एनसीईआरटी के ही ब्लू प्रिंट को लागू किया गया है। इस परीक्षा योजना के द्वारा विद्यार्थियों को थ्योरी का पेपर 70 नंबर, जबकि प्रैक्टिकल 30 नंबर का होगा।

1.अभी तक राज्य में कक्षा ग्यारहवीं के लिए एससीईआरटी (राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद) की किताबें चल रही थीं।
2. लेकिन इस सत्र में माशिमं ने इन्हें बदलकर एनसीईआरटी (राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद) की किताबें लागू कर दी हैं।

3. लिहाजा अब किताबों के साथ-साथ परीक्षा में भी बदलाव हो जाएगा।
4. इसी साल से लागू हो जाएगा नया पैटर्न कक्षा 11वीं में एनसीईआरटी की किताबें लागू करने के बाद माशिमं ने इसके लिए कोई ब्लूप्रिंट लागू नहीं किया था।
5. शिक्षा विभाग पहले नए ब्लू प्रिंट के बारे में सोच रहा था लेकिन अब यह एनसीईआरटी की परीक्षा योजना के तरह लागू कर दिया जाएगा।

6. अब भूगोल, जीव विज्ञान, रसायन, भौतिकी समेत अन्य विषय जिसमें प्रैक्टिकल लागू है।
7. उसकी परीक्षाएं अब 70 अंक की थ्योरी और 30 अंक के लिए प्रैक्टिकल होगा।
8. स्थानीय स्तर पर परीक्षा माशिमं बनाएगा पर्चा माशिमं ने इस साल 9वीं और 11वीं की परीक्षाएं स्थानीय स्तर पर ही कराने का निर्णय लिया है, लेकिन प्रश्न पत्र माशिमं ने ही बनाने का निर्णय लिया है। अभी तक इन परीक्षाओं के लिए स्कूल स्तर पर पर्चे तैयार हो रहे थे।

9. अब इन दोनों कक्षाओं की परीक्षा बोर्ड परीक्षा के आधार पर होगी, लेकिन मूल्यांकन स्थानीय स्तर पर ही होगा।
10. वहीं इस साल से नौवीं में 75 अंक का पर्चा होगा। हर सब्जेक्ट में 25-25 अंक के प्रोजेक्ट प्रैक्टिकल होगा।
11. प्रोजेक्ट के टॉपिक माशिमं देगा, लेकिन इसकी पूरी प्रक्रिया स्कूल स्तर पर ही होगी।

12. माशिमं के प्रश्न पत्र बनाने के कारण अब राज्य स्तर पर एक ही तरह का पर्चा होगा।
13. 11 वीं में एनसीईआरटी की किताबें लागू की गई हैं, इसलिए ब्लूप्रिंट भी इसी का होगा।
14. जैसी किताब की संरचना, पाठ्यक्रम है, उसी के अनुरूप ही तो ब्लूप्रिंट होना चाहिए, ऐसा निर्णय लिया जा रहा है।

http://cgbse.nic.in/

http://cgbse.nic.in/academic.aspx

 

दोस्तों यदि आप को इस योजना के बारे में और अधिक जानकारी चाहिए तो निचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर दे।

Notification के लिए आप Subscribe to Notification Bell को दबा दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.