PRADHAN MANTRI AWAS YOJANA (PMAY) प्रधानमंत्री आवास योजना

 

 

 

प्रधानमंत्री आवास योजना  PRADHAN MANTRI AWAS YOJANA (PMAY)

प्रधान मंत्री ग्रामीण आवास योजना  का आरम्भ  20 नवम्बर 2016 को भारत के प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने किया है।                                                                                                                                            यह योजना ग्रामीण इलाको में 2022 तक सभी को आवास के तहत मिशन को पूरा करेगी इस योजना के तहत सबसे पहले लाभार्थियों  का चयन किया जायगा जो पंचायत द्बारा चुने गया BPL और IRDP के सदस्यो में होगा.

प्रधान मंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत भारत के हर राज्य में मकान का डिजाईन अलग बनाया गया है

यह मकानों का डिजाईन हर मौसम को देखते हुए तैयार किया गया है

प्रधान मंत्री आवास योजना के कुछ जरूरी जानकारियां:-

1.   आने बाले तीन सालो के लिए भारत सरकार ने 1,30,075 करोड़ रूपए का बजट जारी किया गया है जो की योजना को 2016 से लेकर 2019 तक काम किया आएगा।
2.  आबास के क्षेत्रफल को 20 से 25  मीटर कर दिया जाएगा जिसमें की  खाना पकाने के लिए किचन ब्यबस्था की जायेगी ई
3.   2018-19 तक होने वाले कार्य की कुल लागत में भारत सरकार 81,975 करोड़ रुपये का देगीI जिसमें  60,000 करोड़ रुपये की पूर्ति बजटीय सहायता

के द्वारा तथा बाकी 20,000 करोड़  रुपये कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक से लोन पर लिया जायेगी।

4.  इस योजना के तहत लाभार्थी को स्वच्छ भारत मिशन – ग्रामीण और मनरेगा के माध्यम से घर में शौचालय बनाने के लिए 12,000 आर्थिक मदद दी जायगी हैI
5. इस योजना के तहत 4 (योजना के तहत बनाये जाने वाले घरों की संख्या को बढाकर अब 3 करोड से 4 करोड कर दिया गया है) करोड़ घर बनाने का

लक्ष्य रखा गया है जिसे 2022 तक  पूरा किया जायेगा है।

6. वित्तीय सहायता की रकम सीधा लाभार्थी के बैंक खाते या डाकघर के बचत खाते में ट्रांसफर किया जाएगा।
7.  योजना के तहत लाभार्थी का चयन घरों की कमी और आर्थिक जाति जनगणना 2011 के डेटा में दर्शाये गए अन्य सामाजिक  मानदंडों के अनुसार

किया जाएगा जिसमें राज्य सरकारों की भी सहायता ली जायेगी।

8.  घर के बनाने में आने वाला खर्च को 60:40 के अनुपात में केंद्र सरकार और राज्य सरकार के बीच बांटा जाएगा. उत्तर – पूर्वी व पहाड़ी एल्को  में इसे

90:10 के अनुपात में बांटा जाएगा।

9. इस योजना के तहत आने बाले तीन सालो में कुल 1 करोड़ पक्के मकान बनाए जायगे ई इस योजना के तहत बनाये जाने वाले 1  करोड घरों को सरकार

2018-19 तक 1,30,075 करोड़ रूपए की आर्थिक सहायता देगी।

10.  भारत सरकार योजना के तहत लाभार्थियों को घर निर्माण के लिए 1.20 लाख रूपये दिया जायगे और पहाड़ी इलाको में

(हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और जम्मू कश्मीर) 1.30 लाख की वित्तीय सहायता दी जायगी।

प्रधानमंत्री आवास योजना को तीन भागों में पूरा किया जायेगा :

  • पहला चरण: पहले चरण के अन्तर्गत देश के 100 शहरों में PMAY के तहत सस्ती दर पर घर बनाये जायेंगे I
    इसकी शुरुआत अप्रैल 2015 में की जा चुकी है और इसका सम्पन मार्च 2017 में किया जाना सुनिश्चित किया गया हैI
  • दूसरा चरण: यह चरण अप्रैल 2017 से शुरू किया जा रहा है और इसके अंतर्गत 200 शहरों में मकानों का निर्माण किया जायेगा इस चरण की समाप्ति मार्च 2019 में की जाएगीI
  •  तीसरा चरण: यह चरण अप्रैल 2019 में शुरू होगा और मार्च 2022 तक पूरा किया जायेगाI

सबसे जरुरी बात ये योजनाएं केवल जो LIG और EWS के अंतर्गत आते हैं उनके लिए हैंI

Economically Weaker section (EWS) and Low Income Group (LIG)/आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्ल्यूएस) और निम्न आय समूह (एलआईजी)

EWS: परिवार वह परिवार हैं जिनकी सालाना कमाई Rs.3,00,000 तक की हैI

LIG: परिवार वह परिवार हैं जिनकी सालाना कमाई Rs.6,00,000 तक की हैI

PMAY/प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए online apply/ऑनलाइन अप्लाई करने के लिए पहले सरकारी वेबसाइट पर जाएँ  Click here

फिर क्लिक करने के बाद वेबसाइट खुलने पर, यदि आप झुग्गी झोंपड़ी में रहते हैं तो For Slum dwellers में जाएँ और एक फॉर्म सामने आएगा उसे भरें I

 

प्रधानमंत्री आवास योजना Helpline Numbers

CLSS Toll-Free Helpline Numbers:

NHB: 1800-11-3377, 1800-11-3388

HUDCO: 1800-11-6163

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*