Dr Rajendra Prasad Medha Chatravriti Bihar

Dr Rajendra Prasad Medha Chatravriti Bihar 2018 :- दोस्तों आप को बता दे की बिहार सरकार ने ‘मेधा दिवस‘ समारोह के उपलक्ष्य पर `डॉ राजेंद्र प्रसाद मेधा छात्रवृत्ति 2018 ‘ की घोषण की है। इस योजना के तहत बिहार स्कूल परीक्षा बोर्ड की परीक्षा में शीर्ष पर रहने वाले छात्रो को इस योजना का लाभ दिया आएगा। वार्षिक माध्यमिक परीक्षा 2017 में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले 10 मेधावी छात्र एवं छात्राओं समेत इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा 2017 में सभी संकायों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले 5-5 छात्र एवं छात्राओं को सम्मानित किया। इस वर्ष पुरुस्कृत छात्रों को भी मिलेगा छात्रवृत्ति का लाभ पुरुस्कृत छात्रों में से एक ने मुख्यमंत्री को कागज़ पर लिख कर दिया था सुझाव नीतीश ने पढ़ने के बाद लिया छात्रवृत्ति योजना का फैसला. साइकल योजना और पोशाक योजना जैसी योजनाओं को गिनवाए. सिर्फ कितबपधने से काम नहीं चलेगा बल्कि छात्रों के अंदर की मेधा को उभारना होगा। आज सबसे अच्छी बात है की शिक्षा के प्रति रुझान बढ़ा है। पटना डीएम संजय अग्रवाल समेत 10 ज़िला के जिलाधिकारियों को किया गया सम्मानित. पटना डीएम संजय अग्रवाल समेत 10 ज़िला के जिलाधिकारियों को किया गया सम्मानित।

Dr Rajendra Prasad Medha Chatravriti Bihar 2018

मुख्यमंत्री ने कहा कि लड़कियों के लिए समान अवसर प्रदान करने के लिए राज्य सरकार ने बहुत कुछ किया है। कक्षा IX में लड़कियों का नामांकन लगभग सभी लड़कों के बराबर है। “जब 2006 में साइकिल योजना शुरू की गई थी, तब राज्य में सरकारी स्कूलों में केवल 1.7 लाख लड़कियां कक्षा नौवीं में नामांकित थीं। यह आंकड़ा 9 लाख है। मुख्यमंत्री ने 44 योग्य छात्रों को लैपटॉप और जलाना ई-रीडर के साथ नकद पुरस्कार के साथ भी सम्मानित किया। स्वतंत्र और निष्पक्ष परीक्षा आयोजित करने के लिए औरंगाबाद, कटिहार, काइमूर, गोपालगंज, जामूई, नालंदा, पटना, पश्चिम चंपारण, बेगुसराय और मधेपुरा के डीएम को भी सम्मानित किया गया। इस अवसर पर मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह, बीएसईबी के अध्यक्ष आनंद किशोर, राज्य शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा, प्रधान सचिव आर के महाजन, सचिव आर.एल. चोंगथू और अन्य गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे।

Objective Dr Rajendra Prasad Medha Chatravriti Bihar 2018

* मैट्रिक और इंटरमीडिएट परीक्षा के टॉपरों को अगले साल से छात्रवृति मिलेगी. बिहार सरकार ने मैट्रिक के टॉप-10 और इंटर के टॉप-5 टॉपरोें को मेधा पुरस्कार से साथ छात्रवृति भी देगी।

* मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मैट्रिक और इंटरमीडिएट के टॉपर्स छात्र- छात्राओं को पटना के ज्ञानभवन में सम्मानित करते हुए यह घोषणा की।

* यह छात्रवृति भारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद मेधा छात्रवृति के नाम से जानी जाएगी. सीएम ने अपील की कि राजेंद्र प्रसाद के जन्मदिन को पूरे देश में मेधा दिवस के रुप में मनाया जाए।

* सीएम ने कहा कि जो पढ़ेगा वहीं बढ़ेगा. हमलोग अपने राज्य की मेधा को बढ़ाना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि शिक्षा व्यवस्था में सुधार के लिए कई कार्य किए गए। इससे बच्चों का ड्रापआउट 12.5 फीसदी से घटकर 1 फीसदी रह गया है. लेकिन स्कूलों की व्यवस्था संतोषजनक नहीं है।

* उन्होंने कहा कि शिक्षा की गुणवत्ता को लेकर हमेशा चर्चा होती है। गुणवता की कोई सीमा नहीं है। शिक्षा विभाग में पूरे बजट का 20 फीसदी राशि खर्च होती है फिर भी कम पड़ रहा है.साइकलि और पोशाक योजना लागू करने से पहले जहां 9वीं कक्षा में 1.70 लाख छात्राएं थी, आज बढ़कर 9 लाख से अधिक हो गई है।

How To Apply|Apply Online|Online Registration|Online Form|Details|Benefit| Eligibility Criteria|Objective|Online Application form

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *