UP Govt. Prabhu Ki Rasoi

UP Govt. Prabhu Ki Rasoi

UP Govt. Prabhu Ki Rasoi

उत्तर प्रदेश सरकार गरीब वर्ग को बेहद कम दाम में भोजन उपलब्ध कराने के लिए ‘प्रभु की रसोई’ खोलने जा रही है। इस तरह की पहली रसोई का उद्घाटन सहारनपुर में 9 अगस्त को किया जाएगा। इस रसोई से लगभग 300 लोगों को भोजन मिलेगा। उत्तर प्रदेश सरकार ने नोटिफिकेशन जारी कर राज्य में 500 करोड़ रुपये से अधिक की नेटवर्थ और 1,000 करोड़ रुपये से अधिक के टर्नओवर वाली सभी कंपनियों को अपनी इनकम का दो पर्सेंट साक्षरता दर बढ़ाने, युवाओं को स्किल्स सिखाने और महिलाओं को सशक्त करने के साथ ही राज्य में प्रत्येक व्यक्ति को दिन में कम से कम सम्मानजक भोजन उपलब्ध कराना सुनिश्चित करने जैसी कॉरपोरेट सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी पर खर्च करने के लिए कहा था।

Impotent Detail

Name of Scheme – Prabhu Ki Rasoi
Launched By – UP CM Yogi Aditya Nath
Launched Date – 9 Aug.2017
Purpose – For Poor People

UP Govt. Prabhu Ki Rasoi objective

* सहारनपुर के आयुक्त श्री दीपक अग्रवाल के मुताबिक, इस योजना का मुख्य उद्देश्य समाज के गरीब वर्ग के लोगों को दिन में एक बार निःशुल्क भोजन प्रदान करना है।
* इस योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि “कोई भूखा ना रहे” और सभी को भोजन मिलता रहे।
* आयुक्त के अनुसार, इस योजना को चलाने के लिए संगठनों को प्रशासनिक आधार पर पूरा समर्थन मिलेगा।
* इस योजना के शुभारंभ के साथ, सरकार सुनिश्चित करेगी कि राज्य में कोई भी भूखा ना रहे है और कम से कम हर व्यक्ति को भोजन जरुर मिलता रहे।

Benefit of Prabhu Ki Rasoi

* राज्य में स्थापित विभिन्न रसोई में गरीबों को निःशुल्क दोपहर के भोजन का लाभ।
* भोजन में दाल, चावल, चपाती और अन्य सब्जियों के व्यंजन भी शामिल हैं|
* रेलवे स्टेशन के पास स्थित एक स्थान पर प्रभु की रसोई योजना के तहत कैंटीन की स्थापना की जाएगी।
* प्रभु की रसोइ योजना को सहारनपुर जिले में शुरू किया जाएगा। यह योजना 40 सरकारी अधिकारियों के समर्थन से कार्यान्वित की जाएगी।

राज्य सरकार ने सहारनपुर में नगर निगम के दो हॉल्स का इस्तेमाल इस रसोई के लिए करने की अनुमति दी है। SMC फूड्स नाम की एक कंपनी ने रसोई को शुरू करने के सभी खर्च उठाने की जिम्मेदारी ली है। इनमें गैस सिलिंडर लगाना भी शामिल है। सहारनपुर के क्लास वन अधिकारियों ने पहले महीने में रसोई का खर्च चलाने के लिए प्रति अधिकारी 2,100 रुपये देने का वादा किया है।

शुरुआत में इस रसोई में लगभग 300 लोगों को दोपहर 12 से 2 बजे तक चावल, सब्जी और दाल परोसी जाएगी। रसोई के लिए रोटी बनाने वाली मशीनों का ऑर्डर दिया गया है और इनके आने के बाद लोगों को रोटी भी परोसी जाएगी। बीजेपी के प्रवक्ता चंद्रमोहन ने कहा कि उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार सभी संभावित उपायों से गरीबी और भूख को समाप्त करने की कोशिश करेगी।

उनका कहना था, ‘मुख्यमंत्री का सपना राज्य के लोगों, विशेषतौर पर निर्धनों को स्वस्थ और समृद्ध देखना है। सहारनपुर में जो शुरुआत हो रही है वह निश्चित तौर पर राज्य में अन्य स्थानों पर भी होगी। उत्तर प्रदेश सरकार गरीब वर्ग को बेहद कम दाम में भोजन उपलब्ध कराने के लिए ‘प्रभु की रसोई’ खोलने जा रही है। इस तरह की पहली रसोई का उद्घाटन सहारनपुर में 9 अगस्त को किया जाएगा। इस रसोई से लगभग 300 लोगों को भोजन मिलेगा।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*