Viklang Certificate Madhya pradesh | मध्य प्रदेश विकलांगता प्रमाण पत्र एप्लीकेशन फॉर्म   

Viklang Certificate Rajasthan

Viklang Certificate MP

Viklang Certificate MP :- दोस्तों हम आप को बताने जा रहे हैं की विकलांगता प्रमाण पत्र किस प्रकार बना सकते हैं। और इस का क्या महत्व है। दोस्तों यह viklang praman patra Madhya pradesh विकलांग लोगों को केंद्रीय या राज्य सरकार की योजनाओं तक पहुंचने में मदद करता है। विकलांगता प्रमाण पत्र स्थानीय चिकित्सा बोर्ड द्वारा जारी किया जाता है। हमारी सरकार सरकारी या निजी क्षेत्र में नौकरियों को लागू करते समय आयु रियायत जैसे विकलांग व्यक्ति को इतने सारे लाभ / आरक्षण प्रदान करती है, स्कूल / कॉलेज शुल्क में शुल्क रियायत, प्रवेश लेने के दौरान आयु सीमा। विकलांगता प्रमाण पत्र के लिए आवेदक को आवेदन करना होगा। दोस्तों विकलांगता प्रमाणपत्र बनाने की प्रक्रिया नीचे दी गई है। इस प्रक्रियाओं के माध्यम से आप Viklang Certificate MP के लिए आसानी से आवेदन कर सकते हैं।

मध्य प्रदेश विकलांगता प्रमाण पत्र एप्लीकेशन फॉर्म   

मध्य प्रदेश सरकार विकलांग लोगो को viklang pension भी देती है। जिससे विकलांग लोगो को आर्थिक लाभ मिलेगा। इस कानून के तहत विकलांगता की श्रेणी में मनोवैज्ञानिक अक्षमता को मानसिक बीमारी के तौर पर शामिल किया गया है। इसके तहत बनाई गए कानून और ये स्कीमें सिर्फ उन लोगों के लिये हैं जो 40% विकलांग हैं। सरकार उन्हें विकलांग सर्टिफिकेट जारी करती है। दोस्तों मध्य प्रदेश में विकलांग व्यक्तियों के लिए कई प्रकार की योजनाए चलाई है। इन योजनाओ का लाभ लेने के लिए विकलांग सर्टिफिकेट होना आवश्यक है। दोस्तों हम अब अपने इस पोस्ट के माध्यम से बतायेगे की आप Viklang Certificate बनाने के लिए क्या क्या दस्तावेज जरूरी है। और इस का लाभ किस तरह उठा सकते हैं।

दोस्तों विकलांग प्रमाण पत्र फॉर्म भरने के बाद उसे संबंधित अधिकारी के पास जमा कर दें। इस के बाद आप का Viklang Certificate के लिए मेडिकल टेस्ट होगा। जिसमे डॉक्टर की टीम आपके पूरे शरीर की जांच करेगी। आप के उस अंग की जाँच होगी जो विकलांगता में आता है। वह पर डॉक्टर की टीम होगी जिनमें ईएनटी सर्जन,आई सर्जन, मानसिक चिकित्सालय के डॉक्टर,आर्थोपेडिक सर्जन, और फिजिशियन शामिल होंगे। यह सभी डॉक्टर आपकी अच्छे से जांच करेंगे और जांच करने के बाद आपका सर्टिफिकेट बना देंगे। इस सर्टिफिकेट में यह सभी डॉक्टर विचार विमर्श करके विकलांगता का प्रतिशत लिख देंगे।

Benefit of Viklang Certificate Madhya pradesh

1. दोस्तों विकलांग प्रमाण पत्र के द्वारा आप को रेलवे टिकट में छूट मिलेगी, परिवहन बसों में भी आप को छूट मिलेगी।
2. विकलांग प्रमाण पत्र के द्वारा आप को सरकारी नौकरी, शिक्षा में छूट मिलेगी। त
3. सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओ का लाभ भी मिलेगा।

ऐसे मिलती है रेल किराए में रियायत

1. 40 % नि:शक्त 50 % किराए में छूट, अटेंडेंट फ्री
2. 50 % नि:शक्त 50 % किराए में छूट, अटेंडेंट फ्री

3. 70 % नि:शक्त 60 % किराए में छूट, अटेंडेंट फ्री
4. 80 % नि:शक्त 75 % किराए में छूट, अटेंडेंट फ्री

Eligibility of Viklang Certificate MP

1. दोस्तों आप को बता दे की विकलांग प्रमाण पत्र या Viklang Certificate बनवाने बाला व्यक्ति विकलांग होना चाहिए।
2. यदि कोई व्यक्ति चोट लगने के कारण विकलांग होता है तो चोट लगे हुए कम से कम 6 महीने होने चाहिए।
3. दूसरी बात यह है की यदि आप को चोट लगी है तो डॉक्टरों का मानना है कि आप 6 महीने के अंदर ठीक हो सकते हैं। डॉटर के द्वारा लिखे जाने के बाद ही आप का Viklang Praman Patra बनेगा।

4. यदि कोई बच्चा जन्म से ही विकलांग है तो वह कभी भी Viklang Certificate बनवाने के लिए आवेदन कर सकता है।
5. आवेदन करने के लिए आपको अपने शहर के सिविल हॉस्पिटल में जा कर जाँच करनी होगी। उस के बाद ही बचे की विकलांगता का पता चलेगा।

Document for Viklang Certificate MP

दोस्तों आप को बता दे की विकलांग सर्टिफिकेट प्राप्त करने के लिए आप को किन किन दस्तावेजों की जरूरत होगी।
1. आवेदक का विकलांगता का प्रमाण पत्र।
2. हाल ही का पासपोर्ट साइज फोटो। साथ में अपने विकलांग अंग की दो फोटो भी इसके साथ लगानी होगी।
3. आवेदक का स्थायी पता प्रमाण पत्र।

4. आवेदनकर्ता का आधार कार्ड।
5. आवेदनकर्ता का आयु प्रमाण पत्र।
6. आवेदक का बोनाफाइड प्रमाण पत्र।
7. आवेदनकर्ता का आय प्रमाण पत्र।

How to apply for Viklang Certificate Madhya pradesh

दोस्तों आप को बता दे की आप विकलांग सर्टिफिकेट के लिए PDF फॉर्म डाउनलोड करके भर सकते हैं।
1. दोस्तों सब से पहले आप को Viklang Certificate PDF form download करना होगा। http://www.health.mp.gov.in/ha/disability-certificate-2014.pdf
2. Viklang Certificate PDF form को यह से download करें।
3. उसे के बाद आप को उस फॉर्म में पूछी गई जानकारी को ध्यान से भरना होगा।
4. फॉर्म भरने के बाद मांगे गए दस्तावेज को साथ में लगाए।

5. उस के बाद फॉर्म को सबंधित अधिकारी के पास जमा करना होगा।
6. उस के बाद आप का मेडिकल जाँच होगी।
7. मेडिकल जाँच होने के बाद आप को Viklang Certificate जारी कर दिया जायेगा।

दोस्तों आप को इस आर्टिकल के माध्यम से और जानकारी चाहते हैं तो निचे कमैंट बॉक्स में massage करे। हम जल्द से जल्द आप की प्रोव्लम सॉल्व करेंगे।

About Kabita Rana 871 Articles
यह वेबसाइट सरकार द्वारा संचालित नहीं की जाती है। यह एक प्राइवेट वेबसाइट है इस वेबसाइट में हम सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं को लिखते हैं। जिससे सरकार द्वारा चलाई गई योजनाओ की जानकारी समय समय आप के पास पहुंच सके।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.