Himachal Pradesh Siksha Rin or Smridhi Vahan Yojana

Himachal Pradesh Siksha Rin or Smridhi Vahan Yojana

हिमाचल प्रदेश के कागड़ा केंद्रीय सहकारी बैंक सीमित (KCCB) ने शिक्षा और रोज़गार के लिए दो नई योजनाओं का शुभारम्भ किया है। केसीसीबी के द्वारा शिक्षा ऋण व समृद्ध वाहन ऋण योजना (Siksha Rin or Smridhi Vahan Yojana) को लागू किया है। इन योजनाओं के अंतर्गत लाभ लेने के लिए प्रोसेसिंग फीस 31 मार्च, 2018 तक नहीं ली जाएगी। बैंक के चेयरमैन जगदीश सिपहिया के अनुसार दोनों योजनाओं का उद्देश्य राज्य के विद्यार्थियों और उपभोक्ताओं को लाभ देना है।

Interest Rates are up to 10.75 Percent

केसीसीबी बैंक में शिक्षा के लिए चार लाख तक कर्ज लेने पर वर्तमान में दस फीसदी ब्याज, चार से सात लाख कर्ज पर 10.25 फीसदी ब्याज और सात लाख से अधिक कर्ज पर 10.75 फीसदी ब्याज लगता है। शिक्षा योजना में बेटियों को इसमें आधा फीसदी छूट मिलेगी। इस योजना से युवाओ को रोजगार के साधन और उच्च शिक्षा लेने के लिए लोन मिलेगा जिस से वह रोजगार के अवसर तलाश ले।

यह योजना उन गरीब लड़कियों के लिए भी है जो उच्च शिक्षा नहीं पा सकती। इस लिए प्रदेश की जरूरतमंद लड़कियाँ पढ़ने के लिए आर्थिक सहायता चाहती है। तो (KCCB) बैंक सीमित उनकी सहायता करेगा। ऐसी बेटियों को योजना के तहत 0.5 फीसद ब्याज दर पर लोन उपलब्ध करवा कर सहायता प्रदान की जाएगी।

No Processing Fees in the rich vehicle plan

समृद्ध वाहन योजना में एक माह की प्रोसेसिंग फीस नहीं ली जाएगी। बैंक की ब्याज दर 8.75 फीसदी रहेगी। शिक्षा योजना में भी बैंक एक माह की प्रोसेसिंग शुल्क में छूट देगा। मुख्यमंत्री ज्ञान दीप योजना के तहत शिक्षा योजना में बैंक एक अप्रैल 2016 के बाद स्वीकृत हुए लोन में चार फीसदी की सबसिडी देगा। पाठ्यक्रम के टेन्योर और इसके बाद एक साल के मोरेटोरियल पीरियड के दौरान सब्सिडी जारी रखी जाएगी।

बैंक के चेयरमैन के मुताबिक आने वाले समय में किसानों, व्यापारियों व महिलाओं के लिए भी योजनाएं शुरू की जाएंगी। इन योजनाओं के तहत राज्य के सभी वर्गों को शिक्षा के प्रति प्रोत्साहित कर आर्थिक मदद प्रदान करनी है। इस दौरान बैंक के प्रबंध निदेशक पीसी अकेला ने कहा कि लोगों की एकजुटता से आज करोड़ों का व्यवसाय केसीसीबी कर रहा है।

Apply|How To Apply|Apply Online|Online Registration|online form|online date

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *