अन्नपूर्णा भोजनालय योजना उत्तर प्रदेश | Annapurna Bhojnalay Yojana Uttar Pradesh

Annapurna Bhojnalay Yojana

अन्नपूर्णा भोजनालय योजना उत्तर प्रदेश | Annapurna Bhojnalay Yojana Uttar Pradesh| aavedan apply online|online registration|online application form|download pdf form|notification| website|helpline number|List|Such

Annapurna Bhojnalay Yojana Uttar Pradesh

Annapurna Bhojnalay Yojana Uttar Pradesh :- उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार ने गरीब लोगो के लिए ‘अन्नपूर्णा भोजनालय योजना’ नामक एक नई योजना शुरू कर रही है जिसमें न केवल 3 रुपये में नाश्ता दिया जाएगा बल्कि 5 रुपये में भोजन भी उपलब्ध कराया जाएगा।

अन्नपूर्णा भोजनालय योजना उत्तर प्रदेश

अन्नपूर्णा भोजलाय योजना का मसौदा प्रस्ताव तैयार किया जा चूका है और मुख्य सचिव को एक विस्तृत प्रेज़ेंटेशन दी गई है। 12 अप्रैल को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद भी इस प्रेज़ेंटेशन को देखने जा रहे हैं। इसे राज्य के सभी 14 नगर निगमों में पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) के तहत शुरू किया जाएगा।

क्या है उत्तर प्रदेश की अन्नपूर्णा भोजनालय योजना ?

योजना के तहत सुबह का नाश्ता तथा दिन और रात का भोजन करवाया जाएगा. योजना के अंतर्गत नाश्ते में दलिया, इडली-सांभर, पोहा और चाय-पकौड़ा दिया जाएगा, और भोजन के समय रोटी, मौसमी सब्ज़ियां, अरहर की दाल और चावल मिलेंगे. योजना के तहत अन्नपूर्णा भोजनालय राज्य के सभी नगर निगम क्षेत्रों में खोले जाएंगे.

अन्य जानकारी

1. सूत्रों ने कहा कि योगी आदित्यनाथ सरकार उसी जगह पर रेस्तरां खोलने की कोशिश करेगी जहां गरीब और कड़ी मेहनतकश लोगों की संख्या अधिक है।

2. गौरतलब है कि 7 अप्रैल शुक्रवार को एक अन्य बीजेपी शासित राज्य मध्य प्रदेश में दीनदयाल अंत्योदय योजना शुरू की गई है। जहां भोजन केवल पांच रुपये के लिए दिया जाता है।

3. शिवराज सिंह चौहान की सरकार के मुताबिक, दीनदयाल अंत्योदय रसोई योजना शुरू करने का उद्देश्य बड़े शहरों में दूरदराज के गांवों और अन्य राज्यों से आने वाले श्रमिक गरीबों को कम कीमत पर पौष्टिक भोजन प्रदान करना है।

About Kabita Rana 871 Articles
यह वेबसाइट सरकार द्वारा संचालित नहीं की जाती है। यह एक प्राइवेट वेबसाइट है इस वेबसाइट में हम सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं को लिखते हैं। जिससे सरकार द्वारा चलाई गई योजनाओ की जानकारी समय समय आप के पास पहुंच सके।

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.