Kisan Kalyan Karyashala Yojana

Kisan Kalyan Karyashala Yojana

Online Application form kisan kalyan karyashala in tamil, Kisan Kalyan Karyashala Yojana meaning, kisan kalyan karyashala wiki, kisan kalyan karyashala pdf, in hindi, How To Apply, Apply Online, Online Registration,Online Form,Eligibility Criteria

Kisan Kalyan Karyashala Yojana 2020

Kisan Kalyan Karyashala Yojana :- केंद्र सरकार किसानों के लिए 2 मई 2018 को ब्लॉक स्तर पर किसान कल्याण कार्यशाला 2020 (Kisan Kalyan Karyashala Yojana) आयोजित करने जा रहा है। इस योजना के अंतर्गत सरकार किसानो को खेती के नए व उन्नत तरिके सिखाएंगे। इस में प्रत्येक ब्लॉक के किसान, कृषि अधिकारियों, वैज्ञानिकों और प्रगतिशील किसानों के साथ इकट्ठा होंगे और बातचीत करेंगे। इससे कृषि क्षेत्र में एक समग्र विकास होगा और खाद्य भंडार और कृषि उत्पाद भी सुनिश्चित होगा। सरकार किसानों के कल्याण और उनकी आय बढ़ाने के लिए बहु-आयामी 7 बिंदु रणनीति भी लागू करेगा।

किसान कल्याण कार्यशाला योजना 2020

किसान कल्याण कार्यशाला 2020 किसानों को नई तकनीक के उपयोग के माध्यम से अपनी आय बढ़ाने के लिए कई तरीकों पर चर्चा करने का अवसर प्रदान करेगी। किसानों को उनके लिए बनाई गई विभिन्न केंद्र सरकार की योजनाओं से अवगत कराया जाएगा। यह पहल “2022 तक दोगुनी किसानों की आमदनी” की ओर एक बड़ा कदम है। केंद्र सरकार उत्पाद निर्भरता के बजाए कृषि नीति आय निर्भर करने का लक्ष्य है। इस कारण से सरकार विभिन्न कृषि सुधार लाएगा और पर्याप्त बजटीय समर्थन भी प्रदान करेगा।

Multi Dimensional Seven point Strategy for Farmers

केंद्र सरकार कृषि के संभावित क्षेत्रों की पहचान करने जा रहा है और अधिक निवेश प्रदान करेगा। यहां तक ​​कि सरकार भी बागवानी और पशुपालन और मत्स्यपालन में विविधीकरण से किसानों की आमदनी बढ़ाएगी। सरकार किसानों के विकास के लिए निम्नलिखित 7 बिंदु रणनीति लागू करेगा : –

1. संसाधन निर्माण पर एंड-टू-एंड समाधान के साथ सिंचाई पर विशेष जोर “प्रति ड्रॉप अधिक फसल” सुनिश्चित करने के लिए।
2. प्रत्येक खेत की मिट्टी की आवश्यकता के अनुसार उच्च गुणवत्ता वाले बीज और पोषक तत्व प्रदान करने का प्रावधान।

3. फसल कटाई के नुकसान को रोकने के लिए गोदामों और कोल्ड चैन में बड़े निवेश।
4. खाद्य प्रसंस्करण के माध्यम से मूल्यवर्धन को बढ़ावा देने के लिए।

5. सरकार सभी 585 केंद्रों की खामियों को खत्म करने के लिए राष्ट्रीय कृषि बाजार और ई-प्लेटफार्म (ई-एनएएम) भी लागू करेगा।
6. जोखिम कारक को पूरा करने के लिए सरकार कम लागत पर फसल बीमा योजना शुरू करेंगे।

7. इसके अलावा सरकार डेयरी-पशुपालन, कुक्कुट, मधुमक्खी पालन, बागवानी, और मत्स्य पालन जैसी संबद्ध गतिविधियों को भी बढ़ावा देगा।
8. कार्यशाला में मृदा स्वास्थ्य की जांच, रजिस्टर्ड किसानों की भूमि की जांच से संबंधित कार्ड भी दिए जाएंगे।

सरकार कृषि विपणन के लिए जीआरएएम (ग्रामीण खुदरा कृषि बाजार) के रूप में जाना जाने वाला खुदरा बाजार के महत्व पर भी जोर देगा। कृषि मंत्रालय लगातार खेती की लागत को कम करने उत्पादन बढ़ाने लाभप्रद रिटर्न और जोखिम प्रबंधन सुनिश्चित करने के लिए काम कर रहा है। इससे “2022 तक दोगुनी किसान आय” के लक्ष्य को प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

Official Website :- https://rural.nic.in/

About Kabita Rana 871 Articles
यह वेबसाइट सरकार द्वारा संचालित नहीं की जाती है। यह एक प्राइवेट वेबसाइट है इस वेबसाइट में हम सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं को लिखते हैं। जिससे सरकार द्वारा चलाई गई योजनाओ की जानकारी समय समय आप के पास पहुंच सके।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.