Uttar Pradesh Solar Study Lamp Yojana उत्तर प्रदेश सोलर स्टडी लैम्प योजना 

Uttar Pradesh Solar Study Lamp Yojana

Uttar Pradesh Solar Study Lamp Yojana

दोस्तों आप को बता दे की उत्तर प्रदेश सरकार ने Uttar Pradesh Solar Study Lamp Yojana की शुरुआत की है। इस योजना के अंतर्गत ग्रामीण इलाको की महिलाओ को सोलर स्टडी लैम्प एसेम्बल करना सिखाया जाएगा। इस योजना से ग्रामीण महिलाओ को रोजगार के साधन मिलेगे। केंद्र सरकार जल्द ही 70 लाख सोलर लैंप दो केन्द्रो में बनाएगी। प्रत्येक केंद्र पर एक सेंटर इंचार्ज, एक सुपरवाइजर, एक कंप्यूटर ऑपरेटर एवं लैंप बनाने व वितरित करने वाली दस-दस समूह की चयनित महिलाएं कार्यरत हैं। इन्हें जिला स्तरीय और पांच दिवसीय केंद्र पर हैंड होल्डिंग प्रशिक्षण दिया गया है।

 उत्तर प्रदेश सोलर स्टडी लैम्प योजना 

यह योजना देश के पांच राज्य में चल रही है मध्यप्रदेश, उड़ीसा, महाराष्ट्र, राजस्थान और उत्तर प्रदेश जैसे राज्य हैं जहा पर विजली नहीं हैं। सोलर स्टडी लैम्प योजना के तहत राज्य के ग्रामीण और पिछड़े ब्लाकों में रहने वाले छात्रों को 100 रुपए में सोलर स्टडी लैम्प मुहैया कराई जाएगी। सरकार का उद्देश्य यह हैं की योजना द्वारा सरकार की यह कोशिश है कि जिन इलाको में विजली नहीं हैं उन इलाको के छात्रों को लैंप मुहैया करवाया जाए। इस योजना के तहत लैम्प की लागत तो सात सौ से 8 सौ रुपए आई है। लेकिन सरकार ग्रामीण छात्र- छात्राओं को लैम्प महज 100 रुपए में देगी।

Objective of Uttar Pradesh Solar Study Lamp Yojana 2020

1. इस योजना के तहत महिलाओ को सशक्त बनाना हैं।
2. सरकार का उद्देश्य घरो में आय के साधन उपलब्ध करना हैं। साथ ही घरों में रोशनी भी पहुंचना हैं।

3. यह योजना उत्तरप्रदेश के खीमपुर खीरी से शुरू की हैं।

4. खीमपुर खीरी के डीसी ने कहा इस Yogi Solar Study Lamp Yojana के तहत बन रहे लैंप सोलर लैम्प केवल लैम्प नहीं बल्कि ग्रामीण महिलाओं के लिए आय का साधन हैं।

5. महिलाएं लैम्पों के जरिए खुद उद्यमी बनेंगी और आर्थिक समृद्ध भी प्राप्त कर पाएंगे।
6. सरकार यूपी के 29 जिलों के 115 विकास खंडों में इस योजना को स्टार्ट कर चुकी है। 34 लाख छात्रों को ये सोलर स्टडी लैम्प दिए जाने हैं।

7. इस योजना के अंतर्गत अभी तक 856 लैंप असेंबल बनाये जा चुके हैं।

8. लगभग 400 लैंप वितरण किया जा चुका है। इस Solar Study Lamp Distribution से महिलाओं को रोजगार एवं बच्चों को शिक्षा के लिए रोशनी मिलेगी।

9. इसकी बाजार मूल्य ₹700 तक हैं, जो पहली से बारहवीं कक्षा तक के शिक्षार्थी को एक सौ रुपए प्रति लैंप पर वितरित किया जा रहा है।

About Kabita Rana 866 Articles
यह वेबसाइट सरकार द्वारा संचालित नहीं की जाती है। यह एक प्राइवेट वेबसाइट है इस वेबसाइट में हम सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं को लिखते हैं। जिससे सरकार द्वारा चलाई गई योजनाओ की जानकारी समय समय आप के पास पहुंच सके।

4 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.