पं दीनदयाल उपाध्याय मातृ पितृ तीर्थाटन योजना 2020 | P Deendayal Upadhyaya Matri Pitri Teerthatan Yojana

P Deendayal Upadhyaya Matri Pitri Teerthatan Yojana

deen dayal upadhyay yojana in hindi। deen dayal upadhyaya antyodaya yojana in hindi। jyoti yojana in rajasthan|How To Apply|Apply Online|Online Registration|Online Form|Online Date|Details,पं दीनदयाल उपाध्याय मातृ पितृ तीर्थाटन योजना 2020 

P Deendayal Upadhyaya Matri Pitri Teerthatan Yojana

P Deendayal Upadhyaya Matri Pitri Teerthatan Yojana :- ‘पं दीनदयाल उपाध्याय मातृ पितृ तीर्थाटन योजनाउत्तराखंड राज्य सरकार द्वारा ‘पंडित दीनदयाल उपाध्याय मातृ-पितृ तीर्थाटन योजना’ को शुरू किया है। पं दीनदयाल उपाध्याय मातृ पितृ तीर्थाटन योजना 2020 के तहत राज्य के अंदर ही मौजूद देवस्थानों पर घुमाया जाएगा। इसमें 6 नए धार्मिक स्थलों को जोड़ा गया है। साथ ही यह यात्रा पूरे साल चलती रहेगी। पं दीनदयाल उपाध्याय मातृ पितृ तीर्थाटन योजना का लाभ इनकम टैक्स जमा करने वाले बुजुर्ग नहीं ले सकते है। इसके लिए जिला स्तर पर पंजीकरण की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इस योजना को सितम्बर 2017 में लागू किया जायेगा इस के बाद बुज़ुर्गो को यात्रा पर भेजा जाएगा।

पं दीनदयाल उपाध्याय मातृ पितृ तीर्थाटन योजना 2020 

Objective of P Deendayal Upadhyaya Matri Pitri Teerthatan Yojana

1. इस योजना के तहत यात्रा पर आने वाले सभी वरिष्ठ नागरिकों की सुविधा का पूर्ण ध्यान रखे जाने के निर्देश दिए।
2. पर्यटन मंत्री ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि इस योजना का लाभ ज्यादा से ज्यादा ऐसे गरीब व वरिष्ठ नागरिकों को मिल सके जो तीर्थ यात्रा का वित्तीय भार नहीं उठा सकते।
3. यात्रा के दौरान वाहन में मेडिकल किट में जेनेरिक औषधियों का प्रयोग किया जाए।

4. गौरतलब है कि पिछली सरकार ने मेरे बुजुर्ग मेरे तीर्थ के नाम से यह योजना शुरू की थी।
5. इसमें बुजुर्गों को राज्य के अलावा बाहर के भी तीर्थ स्थानों के दर्शन कराए जाते थे लेकिन भाजपा सरकार ने इसके नियमों में बदलाव कर दिया।
6. अब पर्यटन को बढ़ावा देने तथा हर जिले को यात्रा से जोड़ते हुए राज्य के बाहरी तीर्थस्थलों की यात्रा पर रोक लगा दी गई है।

Eligibility Criteria of P. Deendayal Upadhyaya Matri Pitri Teerthatan Yojana

1. ‘पं दीनदयाल उपाध्याय मातृ पितृ तीर्थाटन योजना का लाभ केवल उत्तराखंड के वरिष्ठ नागरिक ले सकते हैं।
2. इस योजना का लाभ केवल वरिष्ठ नागरिक होंगे।

3. इस योजना के लिए आयकर जमा करने की श्रेणी में आने वाले वरिष्ठ नागरिक पात्र नहीं होंगे।
4. ‘पं दीनदयाल उपाध्याय मातृ पितृ तीर्थाटन योजना में रिटायर वरिष्ठ नागरिकों को शामिल नहीं किया गया है।

Tirth patra Place Under P. Deendayal Upadhyaya Matri Pitri Teerthatan Yojana

‘पं दीनदयाल उपाध्याय मातृ पितृ तीर्थाटन योजना के अंतर्गत यात्रा करने वाले तीर्थ स्थान
1. बदरीनाथ धाम
2. गंगोत्री
3. रीठा-मीठा साहिब
4. नानकमत्ता
5. पिरान कलियार

6. जागेश्वर धाम
7. गैराड़कड़ू
8. गंगोलीहाट
9. बैजनाथ
10. कालीमठ
11. ताड़केश्वर सिद्धपीठ की यात्रा को भी योजना में शामिल किया है।

P. Deendayal Upadhyaya Matri Pitri Teerthatan Yojana Registration

1. इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन प्रक्रिया को जिला स्तर पर शुरू किया गया है।
2. पं दीनदयाल उपाध्याय मातृ पितृ तीर्थाटन योजना का लाभ लेने व पात्र बनने के लिए आवेदक को जिले के डीएम कार्यालय में अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा
3. रजिस्ट्रेशन होने के बाद पर्यटन अधिकारी के मार्फत जिलों से यह यात्रा होगी।

About योजनायें 793 Articles
हेलो दोस्तों इस वेबसाइट को चलने का उदेश्य सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं को आप तक पहुंचना है। जिस से आप के पसस समय समय पर इस की जानकारी आप तक पहुंच सके।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.